नई दिल्ली । अयोध्या में पांच अगस्त को राममंदिर भूमिपूजन के बाद खुफिया विभाग ने दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल समेत सुरक्षा एजेंसियों को भाजपा और आरएसएस नेताओं को सुरक्षा की समीक्षा के लिए अलर्ट किया है। खुफिया विभाग के इनपुट्स हैं कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई दिल्ली, एनसीआर, यूपी, पजाब व जम्मू कश्मीर समेत कई राज्यों में भाजपा व आरएसएस नेताओं को निशाना बना सकती है।
स्पेशल सेल के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि खुफिया विभाग ने भाजपा व आरएसएस नेताओं की सिक्यूरिटी ऑडिट करने को कहा है। ऐसे में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने इन नेताओं की सुरक्षा की समीक्षा करना शुरू कर दिया है। इसमें यह देखा जा रहा है कि किस नेता की सुरक्षा कैसी है और कहीं कोई खामी तो नहीं है। अलर्ट में यह भी कहा गया है आईएसआई किसी भी तरीके से इन नेताओं पर हमला कर सकती है। यह भी इनपुट्स हैं कि अब आतंकी भारत के लोगों का ही इस्तेमाल कर टारगेट किलिंग करवाएगी। इसके लिए आईएसआई स्थानीय बदमाशों व गैंगस्टर का सहारा ले सकती है। इस बात के पुख्ता सबूत हैं। आईएसआई की इशारे पर हाल ही में कश्मीर में कई भाजपा नेताओं की हत्या कई गई है। करीब दो वर्ष पहले आईएसआई ने पंजाब में भी इस तरह नेताओं की हत्या करवाई थी। एक अधिकारी ने दावा किया है कि एक आरएसएस नेता ने सुरक्षा को लेकर स्पेशल सेल में संपर्क किया है। हालांकि कोई इस बारे में खुलकर बात नहीं कर रहा है।