भोपाल । प्रदेश में हवा का रुख उत्तरी होने एवं बादल छंटने के बाद एक बार फिर ठंड का दौर शुरू हो गया है।मौसम विज्ञानियों से मिली जानकारी के मुताबिक अभी 3-4 दिन तक रात के तापमान में गिरावट का सिलसिला बना रहेगा। इसके बाद हवा का रुख बदलने से एक बार फिर बादल छा सकते हैं। मौसम केंद्र के वरिष्ठ मौसम विज्ञानी उदय सरवटे ने मौसम के मिजाज की जानकारी देते हुए बताया कि वर्तमान में कोई वेदर सिस्टम सक्रिय नहीं है। उन्‍होंने बताया कि इससे बादल छंटने लगे हैं। आसमान साफ हो गया है। साथ ही हवा की रुख भी उत्तरी हो गया है। इसी क्रम में गुरुवार को प्रदेश में सबसे कम न्यूनतम तापमान 6 डिग्री रीवा और श्यौपुरकला में दर्ज किया गया। हालांकि आसमान साफ होने के कारण दिन के तापमान में धीरे-धीरे बढ़ोतरी होने लगेगी। सरवटे ने बताया कि 27 जनवरी को एक पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत में पहुंचेगा। उसके प्रभाव से हवा का रुख फिर बदलेगा। वातावरण में नमी आने से बादल छाने लगेंगे।  मौसम विज्ञानियों के अनुसार उत्तर भारत में हाल ही में बर्फबारी हुई है। वहां से मैदानी इलाके की तरफ आ रही सर्द हवाओं से प्रदेश में ठंड का दौर एक बार फिर शुरू हो गया है। इस तरह की स्थिति अभी 3-4 दिन तक बनी रह सकती है। इस दौरान न्यूनतम तापमान में काफी गिरावट हो सकती है।