मुंबई : घाटे में चल रही सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया (Air India) की योजना देशभर में 70 से ज्यादा आवासीय एवं व्यावसायिक संपत्तियों की बिक्री कर 700 से 800 करोड़ रुपये जुटाने की है. कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने गुरुवार को इस बारे में जानकारी दी. कंपनी की तरफ से बताया गया कि 16 शहरों में स्थित इन संपत्तियों की एमएसटीसी के जरिये ई-नीलामी की जाएगी.
70 संपत्तियों से 800 करोड़ मिलने का अनुमान
अधिकारी ने कहा, 'हमें इन 70 संपत्तियों की बिक्री से करीब 700-800 करोड़ रुपये मिलने का अनुमान है. इनमें आवासीय एवं व्यावसायिक दोनों तरह की संपत्तियां शामिल हैं. इनमें से कुछ ऐसी भी संपत्तियां हैं जिन्हें हम पहले भी नीलामी के लिये पेश कर चुके हैं लेकिन उन्हें खरीदार नहीं मिल पाया था.' गौरतलब है एयर इंडिया की संपत्तियों को बेचने की योजना को पूर्ववर्ती संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार के दौरान 2012 में मंजूरी दी गई थी.
5 हजार करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य तय
योजना के तहत अप्रैल 2014 से मार्च 2021 तक 5 हजार करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य तय किया गया था. पिछले दिनों एयर इंडिया की 14 परिसंपत्तियों को बेचने के लिए निविदा आमंत्रित की गई थी. इसके जरिये 250 करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य था. जिन संपत्तियों की बिक्री के लिए सरकार ने टेंडर जारी किए थे उनमें आवासीय भूमि एवं आवासीय फ्लैट शामिल हैं. मुंबई, कोलकाता, चेन्नई, बेंगलुरु, पुणे और अमृतसर में संपत्तियों की बिक्री के लिए बोलियां आमंत्रित की गई थी.आपको बता दें मई में कंपनी को चुनिंदा निवेशक के हाथ बेचने की कोशिश की गई थी लेकिन कोई खरीदार सामने नहीं आया. इसके बाद सरकार इसे फिर से मजबूत बनाने की कोशिशों कर रही है. इस क्रम में कंपनी की कम महत्व की परिसंपत्तियों को बेचा जा रहा है.