नई दिल्ली, कांग्रेस की IT सेल प्रमुख और पूर्व सांसद दिव्या स्पंदना (रम्या) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक वीडियो शेयर कर के फंस गई हैं. उन्होंने पीएम मोदी का जो वीडियो शेयर किया है वो पूरा वीडियो नहीं है और इसे देखने से लग रहा है कि पीएम बोल रहे हैं कि उन्होंने हाईस्कूल तक पढ़ाई की है.

दरअसल दिव्या ने मंगलवार को अपने ट्विटर अकाउंट पर पीएम का एक वीडियो शेयर किया जो पीएम मोदी के वर्ष 1998 में दिए इंटरव्यू की है. जिसमें मोदी कह रहे हैं कि उन्होंने 17 वर्ष की उम्र में अपना घर छोड़ दिया था और वो तब से आज तक भटक रहे हैं. इस वीडियो में वो यह कहते भी दिख रहे हैं कि उन्होंने हाई स्कूल तक पढ़ाई की है.

इस वीडियो को शेयर करते हुए दिव्या ने लिखा कि बहुत मुश्किल से वीडियो ढूंढा है जो कि 1998 का है. इसमें मोदी खुद कह रहे हैं कि उन्होंने हाई स्कूल तक पढ़ाई की है लेकिन आज वो कहते हैं कि उन्होंने 1979 में ग्रैजुएशन किया था और उनके पास इसकी डिग्री भी है.
स्पंदना द्वारा यह वीडियो शेयर करने के तुरंत बाद वो लोगों के निशाने पर आ गईं, लोग उन्हें लगातार ट्रोल कर रहे हैं. कई लोगों ने ट्वीट करते हुए उन्हें बताया कि जो वीडियो उन्होंने शेयर किया है वो अधूरा है. तो कुछ लोगों ने कहा कि यह वीडियो फेक है.

स्पंदना के वीडियो इस पोस्ट पर कुछ लोगों ने कांग्रेस और राहुल गांधी पर भी जमकर निशाना साधा. एक यूजर ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'कैसे इतना ट्रोल सहन कर पाती हो. राहुल गांधी पूरा वाक्य बोल नहीं पाते और दिव्या पूरा वाक्य सुन नहीं पाती. अच्छी जोड़ी है.' तो वहीं एक अन्य यूजर ने पीएम मोदी के इंटरव्यू का पूरा वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा, 'आपकी पोल खोलने के लिए मुझे बहुत आसानी से ये वीडियो मिल गया.' एक यूजर ने तो उनसे सोनिया गांधी की शौक्षणिक योग्याता के बारे में ही पूछ लिया.
बता दें कि इसके बाद स्पंदना ने एक खबर को ट्वीट करते हुए लिखा कि जो वीडियो उन्होंने पहले शेयर किया वो पूरा नहीं था. साथ ही उन्होंने साफ किया कि यह वीडियो उन्हें व्हॉट्सऐप पर मिला. हालांकि उन्होंने अपना पहला ट्वीट डिलीट नहीं किया.