मुंबई : रुपये की गिरती कीमत से सभी हलकान हैं. अब इसका असर भी साफ-साफ दिखाई देने लगा है. सरकारी प्रोजेक्ट्स लागातार महंगे हो रहे हैं. डॉलर के मुकाबले पिछले चार महीने से रुपये की गिरती कीमतों की वजह से महाराष्ट्र सरकार को एक हेलीकॉप्टर खरीदने में 18 करोड़ से अधिक राशि का खर्चा आएगा. मंगलवार को जारी एक सरकारी प्रस्ताव (जीआर) में यह जानकारी दी गई. 

जीआर में बताया गया है कि महाराष्ट्र सरकार ने अमेरिका की सिकोरस्काई कंपनी से हेलीकॉप्टर खरीदने की राशि में संशोधन किया है क्योंकि रुपये के मुकाबले डॉलर की महंगी दर की वजह से पहले की तुलना में अब खरीद राशि बढ़ गई है. यह हेलीकॉप्टर वीआईपी की यात्रा के लिए खरीदा जाना है. 

जीआर में बताया गया कि मई में हेलीकॉप्टर खरीद की अनुमानित राशि 127.11 करोड़ रुपये थी क्योंकि तब यह अनुमान 70 रुपये प्रति डॉलर के हिसाब से लगाया गया था. अब यह राशि 145.27 करोड़ रुपये हो गई है क्योंकि अब डॉलर के मुकाबले रुपये की कीमत 80 रुपये है. इससे पहले की राशि में अब 18.16 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी हुई है.

बता दें कि 2017 में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस तीन बार हेलीकॉप्टर दुर्घटनाओं से बचे थे. इन दुर्घटनाओं के बाद से मुख्यमंत्री और राज्यपाल के लिए सिकोरस्काई कंपनी से किराए पर हेलीकॉप्टर लिए जाते हैं. राज्य सरकार ने लॉकहीड मार्टिन से मुख्यमंत्री के लिए एक नया सिकोरस्की एस -76 डी हेलीकॉप्टर आयात करने फैसला लिया था.