भोपाल। 50 ग्राम सोने का बिस्कुट बेचने के लिए अपने जिगरी दोस्त से मदद मांगना एक शख्स को महंगा पड़ गया। उस दोस्त ने अपने कुछ लोगों की मदद से साजिश रचकर न सिर्फ सोने का बिस्कुट छीन लिया, बल्कि पुलिस का भय दिखाते हुए उसकी मोटर साइकल भी हड़प ली। शिकायत मिलने पर पुलिस ने आरोपित दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले में क्राइम ब्रांच का अफसर बनकर आए दो लोगों सहित तीन की तलाश की जा रही है।


तलैया पुलिस के मुताबिक मोहम्मद रिहान (25) नक्कार खाना में आम वाली मस्जिद के पास रहता है। उनके पिता बिल्डर है। रिहान को अपने काम के लिए पैसों की जरूरत थी। उसके पास 50 ग्राम वाला सोने का बिस्कुट था। रुपए हासिल करने वह उसे बेचना चाहता था। इसके लिए उसने इब्राहिमपुरा में रहने वाले जिगरी दोस्त इबाद खान (22) से बात की। 50 ग्राम सोना देखकर इबाद की नीयत डोल गई। उसने कुछ लोगों की मदद से सोना हड़पने की साजिश रची।


सौदे की बात शुरू होते ही आ धमकी क्राइम ब्रांच


साजिश के तहत इबाद 7 मार्च की दोपहर करीब 3 बजे सोने के सौदे के लिए रिहान को लेकर मोती मस्जिद स्थित पानी की टंकी के पास ले गया। वहां उसे तलैया निवासी शफीक उर्फ गोलू मिला। शफीक के साथ दोनों की बिस्कुट बेचने की बात शुरू हुई थी, तभी दो युवक वहां आ धमके। खुद को क्राइम ब्रांच का अफसर बताते हुए उन्होंने रौबदार आवाज में रिहान से कहा कि हमें पता है, तुम लोग गोल्ड की तस्करी करते हो। रिहान को तीन-चार तमाचे मारते हुए उन्होंने इबाद को पकड़ लिया और रिहान को वहां से निकलने का इशारा कर दिया। बुरी तरह घबरा चुका रिहान वहां से भाग गया।


मामला रफा करने मांगे तीन लाख


रिहान के वहां से जाने के कुछ देर बाद ही शफीक ने उसे फोन करके बोला कि पुलिस ने इबाद को पकड़ लिया है। वह मामला रफा दफा करने के लिए तैयार हो गए हैं। उनसे बातचीत करने के लिए पॉलीटेक्निक चौराहा के पास आ जाओ। रिहान वहां पहुंचा तो 3 लाख रुपए में तोड़ हुआ। इसके लिए 1 लाख 60 हजार रुपए के ऐवज में रिहान ने अपने नई बुलट मोटर साइकल की लिखा पढ़ी कर दी। शेष रुपए नकद देने का अनुबंध कर लिया। लेकिन दो दिन बाद उसे कुछ शक हुआ,तो उसने एक लिखित शिकायत तलैया थाने में की। पुलिस ने जांच के बाद इबाद को गिरफ्तार कर लिया है। शफीक और अन्य दो लोगों की तलाश की जा रही है।