जम्‍मू। भारत और पाकिस्‍तान के बीच बॉर्डर पर इन दिनों हालात ठीक नहीं हैं। पाकिस्‍तान की ओर से लगातार सीजफायर का उल्‍लंघन किया जा रहा है। इस बीच बुधवार को एक पाकिस्‍तान सेना का एक हेलिकॉप्‍टर एलओसी के 300 मीटर तक देखा गया। सेना से जुड़े सूत्रों ने इस बात की जानकारी दी।


सेना के सूत्रों ने बताया कि पाकिस्‍तान आर्मी का हेलिकॉप्‍टर कश्‍मीर में एलओसी के नजदीक पुंछ सेक्‍टर में देखा गया। इसे देखकर ऐसा लगा कि ये भारतीय सीमा में प्रवेश करेगा, लेकिन एलओसी पर 300 मीटर तक दिखाने के बाद इस हेलिकॉप्टर ने दिशा बदल ली और ये लौटा गया।


सूत्रों ने बताया कि ये घटना बुधवार को सुबह 9:45 से 10 बजे के बीच में हुई। उन्‍होंने बताया कि पाकिस्‍तान आर्मी का हेलिकॉप्‍टर जहां तक आया, वो सामान्‍य क्षेत्र है। ये पाक अधिकृत कश्‍मीर का पल्‍लांड्री का क्षेत्र है। अभी इस बात का पता नहीं चल पाया है कि आखिर पाकिस्‍तान आर्मी के हेलिकॉप्‍टर का बॉर्डर के इतना नजदीक तक आने का मकसद क्‍या था?


पाक ने बनाए नए परमाणु हथियार


सितंबर में पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री शाहिद खकान अब्‍बासी ने कहा था कि भारतीय सेना की 'कोल्ड स्टार्ट नीति' के जवाब में पाकिस्तान ने कम दूरी वाले परमाणु हथियार विकसित किए हैं। यही बात अब अमेरिकी खुफिया प्रमुख ने भी कही है। अमेरिका का कहना है कि पाकिस्‍तान ने जो नए किस्म के परमाणु हथियार विकसित किए हैं।


इन परमाणु हथियारों में समुद्र से छोड़ी जाने वाली क्रूज मिसाइलें, हवा से छोड़ी जाने वाली क्रूज मिसाइल और लंबी दूरी की बैलिस्टिक मिसाइलें शामिल हैं। अमेरिका का यह भी कहना है कि भारत को पाकिस्‍तान से खतरा बढ़ गया है और पाकिस्‍तान भारत पर परमाणु हमला करने की गलती कर सकता है। पाकिस्‍तान में परमाणु हथियारों पर हमेशा से ही अतंकियों के खतरे की चिंता अंतरराष्‍ट्रीय समुदाय में होती रही है।